Nakoda Bhairav Aarti | श्री नाकोडा भैरवजी की आरति |

ॐ जय जय जयकारा, वारी जय जय झंकारा,

आरति उतारो भविजन मिलकर, भैरव रखवाला,

वारी जीवन रखवाला ॐ जय जय जयकारा ।।1।।

तुं समकित सुरनर मन मोहक, मंगल नितकारा, वारी मं.,

श्री नाकोडा भैरव सुंदर, जन मन हरनारा,

ॐ जय जय जयकारा ।।2।।

खडग त्रिशुल धर खप्पर सोहे, डमरु कर धारा, वारी ड.,

अद्भूत रुप अनोखी रचना, मुकुट कुंडल सारा,

ॐ जय जय जयकारा ।।3।।

ॐ ह्रीँ क्षाँ क्षः मंत्रबीज युत, नाम जपे ताहरा, वारी ना.,

रिद्धि सिद्धि अरु सम्पद मनोहर, जीवन सुखकारा,

ॐ जय जय जयकारा ।।4।।

कुशल कर तेरा नाम लिया नित, आनन्द करनारा, वारी आ.,

रोग शोक दुःख दारिद्र हरता, वांछित दातारा,

ॐ जय जय जयकारा ।।5।।

श्रीफल लापसी मातर सुखडी, लड्डु तेलधारा वारी ल.,

धुप दीप फूल माल आरति, नित नये रविवारा,

ॐ जय जय जयकारा ।।6।।

वैयावच्च करता संघ तेरी, ध्यान अडग धारा, वारी ध्या.,

‘हिंमत’ ‘हित’ से चित में धरता, ‘भव्यानंद’ प्यारा,

ॐ जय जय जयकारा ।।7।।

दो हजारके शुभ संवत्सर, पोष मास रसाला, वारी पो.,

श्री संघ मिलकर करे आरति, मंगल शिव माला,

ॐ जय जय जयकारा ।।8।।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535