राजस्थानी गट्टे वाला पुलाव:

भारत में आने के बाद पिछले कई सालों में मुझे बहुत नये नये व्यंजन को आज़माने का मौका मिला.
इसमें मुख्य रूप से हैं गुजराती और दक्षिण भारतीय व्यंजन.
अब क्यों कि मैं उत्तर भारत से हूँ तो
मैं आम तौर पर मगौंडी के चावल, तहरी, पुलाव
इत्यादि
कई तरह के चावल के व्यंजन बनाता आया हूँ लेकिन कई चीज़ें मेरे लिए बहुत नयी भी हैं.
दक्षिण भारत में कई प्रकार के चावल के व्यंजन बनते हैं जो उत्तर भारत से अलग हैं,
जैसे कि इमली के चावल, नीबू के चावल, दही भात, वामिँगी भात, बिसिबेले भात आदि.
भले ही आपने डिनर में रोटी या कुलचा कितना भी खा लिया हो,
लेकिन जब तक आप चावल नहीं खाते तब तक मन नहीं भरता।
ऐसा लगता है कि मानों भोजन में कोई कमी सी रह गई हो।
इसके अलावा अगर घर पर पार्टी हो और खास महमान आ रहे हों तो भी
पुलाव या चावल बनाया जा सकता है।
वैसे भी
अगर ग्रेवी वाली कोई चीज बनी हो और पुलाव ना बना हो तो स्वाद में मजा नहीं आता।
राजस्थान की मशहूर गट्टे की सब्जी तो हम ने पहले ही बना चुके है,
पर मारवाड़ में गट्टे का पुलाव भी बहुत लोकप्रिय है.
आप को भी गट्टे का पुलाव बेहद पसंद आयेगा.
अब चावल में डालें
बेसन के गट्टे का स्वाद और चखें राजस्थानी गट्टे वाले पुलाव का मजेदार जायका.
यहां सीखें इसे बनाने का तरीका.

रेसिपी क्विज़ीन : इंडियन
कितने लोगों के लिए : 2-4
समय : 15 से 30 मिनट
मील टाइप : वेज

सामग्री:

3 कप पके हुए चावल
2 कप बेसन
एक कप दही
5 आलू
एक बड़ा चम्मच अदरक का पेस्ट
4 हरी मिर्च
एक छोटा चम्मच हल्दी पाउडर
2 छोटे चम्मच गरम मसाला पाउडर
2 लौंग
एक चुटकी हींग
आधा छोटा चम्मच अजवायन
एक छोटा चम्मच राई

स्वादानुसार लाल मिर्च पाउडर
स्वादानुसार नमक
तेल

विधि:

बेसन को बर्तन में छान कर
इस में थोड़ा लाल मिर्च पाउडर, अजवायन, थोड़ा नमक और
दही डाल कर मिक्स कर के गूंद लें.
गुंदे हुए बेसन से छोटी-छोटी लोई बनाएं.
अब लोई को लंबा करके रोल्स तैयार करें.
गैस पर बर्तन में पानी गर्म करें.
इस में बेसन के रोल्स डाल कर मध्यम आंच पर 10 मिनट तक पकाएं.
फिर गैस बंद कर के रोल्स को पानी से निकाल लें
और इन्हें एक इंच मोटे टुकड़ों में काट कर बेसन के गट्टे तैयार करें.
फिर गैस पर कड़ाही में तेल गर्म करें.
इस में लौंग, हींग और राई डाल कर तड़का लगाएं.

इसमें हरी मिर्च और अदरक का पेस्ट डाल कर 2 मिनट मध्यम आंच पर पकाएं.
अब हल्दी, लाल मिर्च, गरम मसाला पाउडर और नमक डाल कर एक मिनट पकाएं.
इसके बाद चावल और बेसन के गट्टे डाल कर चलाएं.
अब चावल को 2 मिनट मध्यम आंच पर पकाएं इसके बाद गैस बंद कर दें
और चावल को एक मिनट के लिए ढक दें.
तैयार है राजस्थानी गट्टे वाला पुलाव.
इसे हरी धनिया पत्तियों से गार्निश कर के दही या रायते के साथ गर्मा गर्म सर्व करें.

क्या ये रेसिपी आपको पसंद आई?

By: Ashish Sarabhai

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535