Mandsaur, Madhya Pradesh

श्री वही पार्श्वनाथ दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र, मंदसोर, मध्य प्रदेश, मंदसोर से करीब १२ किलोमीटर दुरी पर स्थित हैं. इस क्षेत्र का निर्माण आचार्य श्री कल्याण सागर जी मुनिराज की प्रेरणा एवं आशीर्वाद से हुआ हैं. यहाँ. मुलनायक पार्श्वनाथ भगवान की अद्वितीय प्रतिमा वेदी में विराजमान हैं. इसके दर्शन मात्र से विगना बढाओ से मुक्ति मिलती हैं.

Shree Vahi Parshwanath Digambar Jain Atishay Kshetra, Place situated 12 KM away from Mandsor.

This place constructed with the blessing and inspirations from Acharya Shree Kalyan Sagar ji Mahara.

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535