धर्म नगरी धुलियान में सम्पन्न हुआ श्री 1008 कल्पद्रुम महामण्डल विधान एवं भव्य जैनेश्वरी दीक्षा समारोह

श्री 1008 भगवान महावीर दिगंबर जैन मंदिर धुलियान पश्चिम बंगाल में 3 नवंबर से 12 नवंबर तक परम पूज्य दिगम्बरचार्य १०८श्री विद्यासागर जी महा मुनिराजके मंगल आशीर्वाद एवं परम पूज्य आचार्य १०८ श्री सन्मति सागरजी महाराज (दक्षिण) के परम प्रभावक शिष्य परम पूज्य आचार्य श्री १०८ शीतल सागर जी महाराज एवं मुनि श्री १०८प्रशम सागर जी महाराज ससंघ के पावन सानिध्य में तथा बा: ब्र: प्रदीप भैया अशोकनगर के कुशल निर्देशनमें.. श्री१oo८कल्पद्रुम( अर्हच्चक्र) महामंडल विधान एवं विश्व शांति महायज्ञ का भव्य आयोजन हुआ कार्यक्रम में ध्वजारोहण करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ।

श्रीमान ताराचंद जी सेठी परिवार औरंगाबाद एवं विशाल 24 समोशरण की पांडाल उद्घाटन करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ श्रीमान विमल कुमार जी निर्मल कुमार जी सुजीत कुमार जी गंगवाल परिवार धुलियान एवं प्रमुख पात्र बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ , भरत चक्रवर्ती- श्रीमान प्रदीप कुमार जी अंजना देवी गंगवाल परिवार सोधर्म ईन्द्र-  श्रीमान बाला बकस जी शिखर चंद जी बड़जात्या परिवार धन कुबेर- श्रीमान प्रकाश चंद जी दिलीप कुमार जी काला परिवार  बाहुबली- श्रीमान राजकुमार जी सुशील कुमार जी काला परिवार यज्ञ नायक- भंवरी देवी सेठी परिवार एवं श्रावकश्रेष्टी बने श्रीमान नरेश कुमार जी गंगवाल, श्रीमान राजकुमार जी झंझरी, कैलाश चंद जी सेठी, मनोज बड़जात्या।

पहली बार मुर्शिदाबाद जिले मै दीक्षा का कार्यक्रम हुआ, दीक्षार्थी की माता पिता बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ धुलियान निवासी श्रीमान अजीत कुमार जी अजमेरा। दिनांक 7 तारीख को हल्दी का कार्यक्रम 8 तारीख को मेहंदी का कार्यक्रम 9 तारीख को गणधर वलय विधान एवं गोद भराई का कार्यक्रम ऐतिहासिक रूप में संपन्न हुआ। दिनाँक  10.11. 2019 को आचार्य श्री के करकमलोसे महाराष्ट्र के कोल्हापुर निवासी विजय चंद्रकांत बड़गांवें जी की जैनश्वरी दीक्षा कार्यक्रम संपन्न हुआ ।

आचार्यश्री ने श्री १oo८कल्पद्रुम विधान की विशाल रचना देखते हुए दीक्षार्थी का नाम प्रदान किया

मुनिश्री१o८कल्पबृक्ष सागर महाराज जी महाराज उनको पिछी भेंट करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। श्रीमती कुसुम देवी गंगवाल परिवार धुलियान एवं कमंडल  भेंट करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ ।। स्वरूपचंद चक्रेश कुमार जी सेठी परिवार औरंगाबाद एवं ज्ञान के प्रति शास्त्र भेंट काली दासजी छावड़ा परिवार जियागंज एवं आचार्य श्री की गुरु पूजा हर नगर के लोग कई राज्यों के वस्त्र पहनकर गुरु आराधना किए । 11 तारीख को मंदिर जी के सामने पांडाल में दीक्षार्थी का प्रथम आहार संपन्न हुआ। 12 नवंबर 2019 इतिहास रचा धूलियान नगर में पहली बार 24 पालकी पर विराजमान 24 तीर्थंकर की विशाल ऐतिहासिक शोभायात्रा नगर परिक्रमा करने निकली लोग देखकर धन्य हो गए तत्पश्चात मुर्शिदाबाद जिला मिलन उत्सव* एवं दोपहर में 2:00 बजे से पिछी परिवर्तन समारोह में आचार्य श्री की पीच्छी श्रीमान सुशील जी काला धूलियान को लेने का सौभाग्य प्राप्त हुआ व मुनि श्री प्रशम सागर जी महाराज की पीच्छी श्रीमान मनोज जी बड़जात्या धुलियान को लेने का सौभाग्य प्राप्त हुआ, नयी पीच्छी देने का सौभाग्य श्रीमती कुसुम देवी गंगवाल धुलियान एवं महाराष्ट्र के अतिथि को सौभाग्य प्राप्त हुआ। महामंत्री मनोज जी निर्देशन में यह विशाल कार्य सक्रिय रुप से संपन्न हुआ। आचार्य श्री के प्रवचन की विशेष शब्द धुलियान 5 साल पहले प्रमाण सागर जी महाराज के आशीर्वाद से धर्म नगरी हुआ अब आचार्य श्री के आशीष अनुसार रत्न नगरी धुलियान के नाम से जाना जाएगा ऐसा गुरुवर का आशीष है।

— अभिषेक जैन

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535