जैन मंदिर से 11 मूर्तियां, यंत्र एवं 50 हजार की चोरी की घटना

रतलाम के बाजना कस्बे में सदर बाजार स्थित श्री चिंतामणि पाश्र्वनाथ जैन मंदिर के मुख्य द्वारा तोड़कर अष्टधातु की 11 प्रतिमाएं, सिद्धचक्र एवं अष्ट मंगल तथा दानपात्र से लगभग 50 हजार रुपये की चोरी की घटना को अंजाम दिया। जानकारी के अनुसार बुधवार की रात मुख्य गेट के नकूचा तोड़कर चोरों ने मंदिर में प्रवेश किया और गर्भ गृह से अष्टधातु की चौबीस तीर्थकर की दो मूर्ति, श्री शांतिनाथ भगवान, श्री पाश्र्वनाथ भगवान, श्री आदीर दादा, श्री पदमावती की एकRsएक मूर्ति सहित 11 मूर्तियों सहित दो सिद्धचक्र, दो अष्ट मंगल के साथ दो दानपात्र तोड़कर 50 रुपये की चोरी की घटना का अंजाम दिया।  गुरूवार सुबह कनकमल नाहर पूजा करने मंदिर पहुंचे तो उन्होंने गेट का नकूचा टूटा देखा और कुछ ही देर में चोरी की घटना की फबर पूरे नगर में फैल गयी। वहां बड़ी संख्या में समाज एवं अन्य समाज के लोग मंदिर पहुंच गये। सूचना मिलने पर थाना प्रभारी वरुण तिवारी एवं अन्य पुलिसकर्मी भी मौके पर पहुंच गये। पुलिस गश्त के पास ही मंदिर है। चोरी की घटना से समाज के लोग आक्रोशित हैं। श्री संघ के प्रकाश चौरड़िया, वर्धमान चंचल, सतीश नाहर सहित विमल जैन ने बताया कि मुख्य बाजार और सेंट्रल बैंक के एटीएम के पास ही मंदिर स्थित है और यहां चोरी की घटना होना पुलिस की लापरवाही को उजागर करता है। दोपहर में जैन समाज के लोगों द्वारा मौन जलूस निकाला गया, जो तहसील कार्यालय पहुंचा, जहां बाजना श्री संघ द्वारा तहसीलदार अमृतलाल धुव्रे को कलेक्टर ने नाम ज्ञापन दिया गया। इसके बाद बाजना थाने पर थाना प्रभारी तिवारी को एसपी के नाम ज्ञापन दिया गया। ज्ञापनों में आरोपियों का पता लगाकर उन्हें जल्द गिरफ्तार कर मूर्तियां और नकदी बरामदी की मांग की है।

Comments

comments