16 उपवास रत तपस्वियों की पारणा कल

परमपूज्य आर्यिका श्रेष्ठ गुरु माँ विज्ञानमती माता जी के मंगल सानिध्य में पर्वाधिराज पर्युषण एवं श्री सोलहकारण पर्व की पावन बेला पर आयोजित श्रावक संस्कार शिविर में विभिन्न अंचलो के श्रावकों ने 10 से लेकर 16 दिनों की उपवास की तप साधना की थी। गत दिवस 10 उपवास रत तपस्वियों की पारणा महोत्सव पूर्वक कराई गई।

कल 27 सितम्बर गुरुवार को प्रातः 7:30 वजे नेहानगर (मकरोनिया)-सागर में 16 उपवास की साधना कर रहे तपस्वियों की मंगल पारणा  पूज्य आर्यिका संघ के सानिध्य में सम्पन्न होगी। साधनारत श्रावकों के तप की अनुमोदना के लिए दूरस्थ अँचलों से श्रावकों का नेहानगर पहुँचना प्रारम्भ है।

16 उपवास की कठिन साधना बाले श्रावक – —-

आर्यिका सुवीर मती माता जी की ग्रस्थ अवस्था की माँ

श्रीमती मंजू जैन (तेंदूखेड़ा)

श्री सौरभ जैन (बहादुरपुर)

श्रीमती संध्या(बामौरकला)

श्रीमती रानी  (बामौरकला)

कु.पूर्वी जैन बामौर कला

 

महीष मोदी

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535