सूरत के कपड़ा व्यवसायी का 17 वर्षीय पुत्र घर-परिवार छोड़कर लेगा दीक्षा

सूरत के कपड़ा व्यापारी श्रीश्रीमाल के 17वर्षीय युत्र निमित क्षणिक भौतिकतावादी सुख को छोड़ परम शांति को पाने दिनांक 27 जनवरी को दीक्षा ग्रहण कर संत बन जाएंगे। आचार्य विमल सागर सूरीर महाराज के पावन सानिध्य में वेसू स्थित रघुवीर सिल्वर स्टोन, श्यम पैलेस में 27 जनवरी को दीक्षा महोत्सव कार्यक्रम का आयोजन होगा।बता दें कि परे पाइंट स्थित कुंतुनाथ टावर में रहने वाले मनोज 22 वर्षो से सूरत में कपड़े का व्यवसाय करते हैं।

दीक्षा महोत्सव से एक दिन पूर्व 26 जनवरी को दीक्षार्थी निमित की वर्षी दान शोभायात्रा निकाली जाएगी, जिसमें लगभग 5 हजार श्रद्धालु शामिल होंगे। दीक्षा  से पूर्व दीक्षार्थी निमित ने कहा कि मान लीजए आपने महंगी कार खरीदी तो क्षणिक खुशी महसूस होगी किंतु यदि हादसा हो जाए तो आपकी खुशी से दुख में बदल जाएगी और लगेगा कि इतनी महंगी कार खराब हो गई। खुशी क्या है? यह व्यक्ति का अंतर्मन तय करता है न कि भौतिक दुनिया तय करती है।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535