500 वर्ष प्राचीन भगवान सुपार्श्वनाथ की मूर्ति चोरी

Police Investigation at Jain Temple Bundi city

राजस्थान के बूंदी नगर के इंद्रगढ़ क्षेत्र में माताजी रोड स्थित नसिया अतिशय क्षेत्र से शनिवार रात भगवान सुपार्श्वनाथ की लगभग पांच सौ वर्ष पुरानी पाषाण की प्रतिमा चोरी हो गई। रविवार सुबह जैन समाज के महावीर हरकारा एवं जीवनधर जैन सहित कुछ अन्य श्रद्धालु अतिशय क्षेत्र में दर्शन हेतु पहुचने पर मूर्ति चोरी की जानकारी हुई। श्रद्धालुओं ने मुनि सुब्रतनाथ मंदिर का दरवाजा खुला देखकर आभास हो गया कि मंदिर में चोरी की घटना को अंजाम दिया गया है। घटना की जानकारी तत्काल थाना प्रभारी कैलाशचंद्र जाट को दी और घटना स्थल पर पहुंचकर निरीक्षण किया। ज्ञातव्य हो कि चोरों ने अन्य किसी मूर्ति को हाथ तक नहीं लगाया और न ही दानपात्र के साथ छेड़छाड की।

जिस वेदी से प्रतिमा चुराई गई, वहां पांच अन्य मूर्तियां भी स्थापित थी किंतु उन मूर्तियों को चोरों ने नहीं छुआ। पुलिस और समाज के लोगों का मानना है कि शातिर चोरों ने पूरी रेकी कर वारदात को अंजाम दिया। प्रात: करीब 11.00 बजे बूंदी से एफएसएल की टीम ने मौके पर पहुंचकर साक्ष्य जुटाये। उधर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। चोरी की घटना की खबर मिलते ही समाज के लोग इकट्ठा होने लगे और विरोधस्वरूप अपने-अपने प्रतिष्ठान बंद रखकर जल्द मूर्ति बरामद करने की बात की है।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535