दिन दहाड़े 700 वर्ष प्राचीन अष्टधातु की मूर्ति चोरी से समाज रोषित

मूर्ति चोरी - Mozamabad jain temple

जयपुर के मौजमाबाद कस्बे के प्राचीन छोटा जैन मंदिर से मूर्ति चोरी। सोमवार को दिन दहाड़े 700 वर्ष प्राचीन अष्टधातु की भगवान शांतिनाथ की मूर्ति चोरी की घटना को अंजाम दिया। दिन दहाड़े हुई घटना के बाद कस्बे में हडकंप मच गया। घटना की जानकारी देर सायं पुजारी द्वारा पूजा के दौरान मूर्ति न होने का पता चला। घटना के बाद थानाध्यक्ष हरिसिंह मंदिर पहुंचे और मुआयना कर आसपास के लोगों से बात की।

मंदिर प्रबंधन द्वारा मूर्ति चोरी की रिपोर्ट दर्ज

मंदिर प्रबंधन के अशोक कुमार ने दूदू थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। इस घटना के बाद से जैन समाज में रोष ब्याप्त है। 700 वर्ष प्राचीन मूर्ति की चोरी की घटना के पीछे मंदिर प्रबंधन की भी लापरवाही सामने आई। सोमवार प्रात: 09.00 से 10.00 बजे के बीच एक अनजान व्यक्ति मंदिर में श्रद्धालुओं की मौजूदगी में मूर्ति चोरी कर ले गया । किसी को पता तक नहीं चल पाया। थानाध्यक्ष के अनुसार चोरी की घटना के खुलासे का प्रयास किया जा रहा है।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535