यमुनानगर में 8 दिवसीय सिद्धचक्र विधान का शुभारम्भ

हरियाणा के यमुनानगर स्थित मॉडल कालोनी के श्री शांतिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में आठ दिवसीय श्री सिद्धचक्र महामंडल विधान की शुरूआत पूरी भव्यता के साथ शुरू हुआ। सांगानेर से आये पंडित अंकित जैन शास्त्री जी के दिशा-निर्देशन में पूजा-प्रक्षाल, शांतिधारा के साथ महामंडल विधान की शुरूआत हुई। विधान की शुरूआत में ध्वजारोहण, दीप प्रज्ज्वलन के साथ पांच सौभाग्यवती महिलाओं ने कलश की स्थापना की। पंडित अंकित जैन ने संबोधन में कहा कि नित्य पूजा में विधि विधान का उपयोग नहीं किया जाता। सिद्धचक्र पूजा नैमित्तिक पूजा है, इस सम्पूर्ण विधान में 2040 अर्घ चढ़ाये जाते हैं और जिनवाणी तथा गुरू की पूजा भी की जाती है और अंत में हवन प्रक्रिया की जाती है। इसमें 16 संस्कारों का उल्लेख है।

उन्होंने बताया कि पूरी श्रद्धा के साथ सिद्धचक्र विधान करने पर अपने पति कोटीभट्टराजा श्रीपाल का कुष्ठरोग दूर कर दिया था। इसलिए इस विधान की महिमा अपरंपार है। इस विधान की पूजा में 64 अर्ध चढ़ाये जाते हैं, वह 64 सिद्धियां हैं। इस अवसर पर गौतम जैन, मुकेश जैन, अनिल जैन, राजेंद्र जैन, गिरिराज स्वरूप जैन, डा. रमेश जैन, सुशील जैन, अजय जैन, चक्रेश जैन, स्नेहलता जैन, मनोकामना जैन, अनीता जैन, रंजू जैन, भावना जैन, नीति जैन, इंद्रेश जैन, वीना जैन, त्रिशला जैन सहित समाज के काफी संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535