अभिषेक करने से मिलता है सुख, समृद्धि और शांति : मुनि सुधा सागर

किशनगढ़ के जैन समाज को मुनि पुंगव श्री सुधा सागर जी ससंघ का पावन-सानिध्य प्राप्त हो रहा है। इसी क्रम में किशनगढ़ हाउसिंग बोर्ड जैन समाज के विनम्र अनुरोध पर मुनिश्री प्रात:कालीन बेला में श्री महावीर दिगम्बर जैन मंदिर हाउसिंग बोर्ड में जिनेंद्र देव के दर्शन करते बुधवार गये। यहां मुनिश्री के पावन सानिध्य में जिनेंद्र देव का अभिषेक एवं शांतिधारा सम्पन्न हुई। उसके पश्चात एक धर्मसभा को संबोधित करते हुए मुनिश्री ने कहा कि जिनेंद्र देव का अभिषेक करने मात्र से घर-परिवार में सुख, समृद्धि एवं शांति की प्राप्ति होती है। मुनिश्री ने गंदोधक की अदभुत महिमा बताते हुए सभी को मंगल आशीर्वाद दिया और मंदिर का अवलोकन करने के बाद वहां के समाज का जरूरी दिशा-निर्देश दिये। इस अवसर पर एमके जैन, पन्नालाल बडजात्या, अजित दोसी, सुभाष दोसी, पंकज पहाडिया, राजेश बडजात्या, राकेश बोहरा, स्वरूप बज, मुकेश सोगाणी, आनन्द बज, राहुल पाटोदी, निहाल चंद बज, कनक बज, रेण बड़जात्या, मीना पाटनी, शोभा सेठी, राजदुलारी बज सहित बड़ी संख्या में श्रावकगण मौजूद थे।

किशनगढ़ के आर.के.कम्युनिटी सेंटर में मुनि पुगंव सुधा सागर जी के हाउसिंग बोर्ड कालोनी चले जाने के बाद बुधवार को मुनि महासागर जी महाराज ने श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए कहा कि जीवन का प्रवाह सही और अच्छी दशा में होना चाहिए। मनुष्य के जैसे कर्म, सोच और भाव होंगे, वैसा ही जीवन बनेगा। एक ज्ञानी मनुष्य का लक्ष्य भगवान बनने का होता है, अपने जीवन का सदउपयोग करते हुए अपने लक्ष्य की प्राप्ति में रम जाता है। इसलिए हमें भगवान से साधन नहीं बल्कि साधना मांगनी चाहिए। जो शरीर पर आशक्त हो जाए, वह आत्मा का आनंद नहीं उठा पाते। संसार में पुण्य-पाप दोनों है किंतु तय हमें करना है कि हमें किस दिशा की ओर जाकर अपना जीवन निर्वाह करना है।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535