सावधानी से मिलता है समाधान: मुनि प्रमाण सागरजी

भोपाल। मुनि श्री प्रमाण सागर जी महाराज ने धर्म सभा को सबोधित करते कहा ज्ञान हमारे जीवन चित्त को सावधान करता है, जिससे जीवन मे सही समाधान मिलता है। जब तक तुम सावधान नही होंगे तब तक तुम सावधान नही होंगे समाधान नही मिलेगा। बुधवार को मुनि श्री पद्मनाभ नगर मे  धर्म सभा को सबोधित कर रहे थे उन्होने कहा सड़क पर चलने वाले बहुत से लोग मिलेगे। नज़र दौड़ाओगे तो ऐसे भी लोग मिलेगे, जो जन्मजात अपंग है। जब कभी ऐसे लोग दिखे तो विचार करना कि उनकी जगह अगर आप होते तो क्या होता? आप संसार के भाग्यशाली, पुण्यशाली हो कि पूरी हर तरीके से सुख संम्पन्नता के साथ फिट हो। दुनिया मे ऐसे भी लोग भी है, जो भिक्षा से दो जून की रोटी भी मुश्किल से पा रहे है।

मुनि श्री ने कहा आप सभी पैरोल पर हो। अपराधी जब पैरोल से छुटता है तो वह किसी घटना के बाद दोबारा उसे अंदर किया जाता है। आप भी इस संसार मे जीवन के रोल को सही दिशा मे निभाओ। अगर पैरोल खत्म हुई और जीवन का रोल बिगड़ा तो नरक निगोद गति में जाना पड़ेगा। संसार की बॅलन्स शीट जरा सी गड़बड़ा जाती है तो रातो की नींद उड़ जाती है अपने भीतर बैलेंस शीट को तो  देखो मुश्किल यह है बाहर का एकाउंट हर साल ऑडिट होता है पर जीवन का एकाउंट आज तकऑडिट नही हुआ। कभी जांच परख नही की कभी अपने कर्मो का बॅलन्स चेक नही किया।

 

— अभिषेक जैन लुहाड़िया रामगंजमंडी

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535