आचार्य विद्यासागर जी के दर्शनों हेतु उमड़े श्रद्धालु। कुंडलपुर में होगा, जून से 5दिवसीय महामस्तकाभिषेक का भव्य कार्यक्रम

मध्य प्रदेश के दमोह जिले के अति प्राचीन अतिशय श्रेत्र कुंडलपुर में आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज ससंघ के आगमन से देश भर से श्रद्धालु आचार्य श्री के दर्शन करने पहुंच रहे हैं। अतिशय क्षेत्र कुंडलपुर में लगभग  63 मंदिर हैं, जिसमें मुख्य मन्दिर में मूल नायक भगवान आदिनाथ (बड़ेबाबा) की अति प्रचीन और अतिशयकारी प्रतिमा विराजमान है, जिसके दर्शन करने लोग दूर-दूराज से यहां खिंचे चले आते हैं। कुंडलपुर में आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज जी ससंघ का आगमन  सात वर्षो बाद हुआ है। ऐसे में दूर-दराज से श्रद्धालु आचार्य जी ससंघ के दर्शन करने अतिशय क्षेत्र कुंडलपुर पहुंच रहे हैं और आचार्य श्री की नियमित चर्या में शामिल होकर पुणयार्जन प्राप्त करने में जुटे हैं। आचार्य श्री के मुखारबिंद से प्रवचन सुनकर श्रद्धालु भाव-विभोर हो जाते हैं। माह जून में आचार्य श्री के सानिध्य में कुंडलपुर में पांच दिवसीय महामस्तकाभिषेक कार्यक्रम भव्यता के साथ मनाया जाएगा, जिसकी रूपरेखा कुंडलपुर क्षेत्र कमेटी द्वारा बना ली गयी है। अतिशय क्षेत्र कुंडलपुर में वर्ष 2001 के बाद का सबसे बड़ा कार्यक्रम होगा, इस पांचदिवसीय कार्यक्रमें जैन समाज के श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ेगा। कार्यक्रम की तैयारियां शुरू हो गयी हैं और इसके लिए आयोजन कमेटी का भी गठन कर लिया गया है।

Comments

comments