उपधान तप आराधकों व दीक्षार्थियों की रथयात्रा में उमड़ा आस्था का ज्वार।

बाड़मेर। 51 दिवसीय उपधान तप की महा आराधना की पूर्णाहुति को लेकर श्री सुखसागर उपधान तप समिति द्वारा आयोजित त्रिदिवसीय मोक्षमालारोहण महोत्सव के अंतर्गत दूसरे दिन उपधान तप आराधकों व मुमुक्षु लोकेश गोलछा जगदलपुर, निकिता बोहरा गुड़ामालानी व ममता कटारिया चेन्नई भव्यातिभव्य रथयात्रा का आयोजन किया गया।

श्री सुखसागर उपधान तप समिति के संयोजक सम्पतराज बोथरा व मीडिया प्रभारी चंद्रप्रकाश छाजेड़ ने बताया कि मोक्षमालारोहण महोत्सव के अंतर्गत जैनाचार्य जिनपीयूष सागर सूरीश्वर महाराज, मुनिराज कमलप्रभ सागर महाराज व साध्वी प्रगुणाश्री आदि ठाणा की पावन निश्रा व सान्निध्य में आयोजित रथयात्रा का आगाज आराधना भवन हमीरपुरा से जितेंद्र जैन आई.जी. पंजाब पुलिस व बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन, रिखबदास मालू, समिति के सह संयोजक पारसमल धारीवाल, मनसुखदास पारख ने हरी झंडी दिखाकर किया।

इन मार्गों से गुजरी रथयात्रा, जगह-जगह हुआ आराधकों व मुमुक्षुओं का स्वागत-   रथयात्रा समिति के भुरचंद बोहरा व मुकेश बोहरा ‘अमन’ ने बताया कि रथयात्रा आराधना भवन से आरंभ होकर प्रतापजी की पोल, दरियागंज, जैन न्याति नोहरा, पीपली चौक, ढ़ाणी बाजार, जूना केराड़ू मार्ग स्थित महावीर स्वामी जिनालय के दर्शन किये कर रथयात्रा का समापन किया गया।

ये रहे रथयात्रा के मुख्य आकर्षण- उपधान तप अभिनन्दन रथयात्रा में सबसे आगे जैन ध्वज, ढोल पार्टी, उपधान तप समिति बैनर, हाथी, ऊंट व घोड़े पर सवारों के हाथ में लहराती धर्म ध्वजाएं, अष्ट मंगल, जलधारा, परमात्मा का रथ, दादा गुरूदेव का रथ, पदमावती बेंड बैंड के मंगल ध्वनियों का वादन करते बैण्ड वादक और आचार्य भगवंत की धवलसेना, उपधान तप के पुरूष आराधक व उनके पीछे-पीछे चलते गुरू महिमा का गुणगान करते, जिनशासन की जय-जयकार करते भक्तजन,  साध्वी भगवंत, उपधान तप आराधक श्राविकाएं, गेर नृत्य, सिर पर मंगल कलश धारण किये महिला मंडल की महिलाएं उसमें पीछे  दीक्षार्थी अमर रहो, जा संयम पन्थे दीक्षार्थी तारो पंथ सदा उजमाल बने के नारों के साथ चलते मुमुक्षु लोकेश गोलछा, निकिता बोहरा व ममता कटारिया का रथ सहित मारवाड़ की आन-बान-शान साफा पहने सैकड़ों श्रावक इस रथयात्रा के मुख्य आकर्षण रहे। वहीं शहरभर में रथयात्रा व गुरू भगवंतों गंहुली के माध्यम से भव्य स्वागत एवं अभिनंदन किया गया। रथयात्रा में बैंड की धुन एवं ढ़ोल की थाप पर गुरूभक्त युवा वर्ग जगह-जगह पर झूमते नजर आये।

रथयात्रा का जगह-जगह पर श्रद्धालुओं द्वारा पुष्पवर्षा कर स्वागत किया गया। रथयात्रा के पश्चात गडरा रोड स्थित श्री कुशल-आनंद उपधान तप वाटिका में दीक्षार्थी अभिनंदन समारोह का आयोजन किया गया। जहां मुमुक्षु लोकेश गोलछा, निकिता बोहरा, ममता कटारिया व शुभम सिंघवी का समिति की ओर से माला, साफा, श्रीमाल मोमेन्टो व अभिनंदन पत्र भेंट कर बहुमान किया गया। दीक्षार्थियों ने सकल संघ से दीक्षा समारोह में पधारने की विनंती की। तत्पश्चात मोक्षमाला से संबंधित चढ़ावे हुए व उपधान तप के लाभार्थियों का अभिनंदन किया गया। रात्रि में भक्ति संध्या का आयोजन किया गया।

उपधान तप आराधकों को मालरोहण का मुख्य समारोह 6 नव. को- महोत्सव के अंतिम दिवस 6 नवम्बर को प्रातः 7.45 बजे मोक्षमाला परिधान का भव्य कार्यक्रम आयोजित होगा। 51 दिवसीय उपधान तप की आराधना करने वाले आराधकों को मोक्षमाला पहनाकर अभिनंदन किया जाएगा तथा इसकी के साथ कि 51 दिवसीय उपधान तप आराधना का समापन होगा। एवं कार्यक्रम के पश्चात् सकल संघ का साधर्मिक वात्सल्य व दोपहर में दादा गुरूदेव की पूजा आयोजित की जायेगी। इस कार्यक्रम देशभर विभिन्न संघों के अग्रणीय संघ प्रमुख शिरकत करेगें।

 

  •  चन्द्रप्रकाश बी. छाजेड़

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535