घंटों में लाइन में लगकर अमेरिका प्रवासी भारतीयों ने यक्ष-रक्षित प्रतिमाओं का किया अभिषेक

जयपुर के सांगानेर श्री संघीजी जैन अतिशयकारी मंदिर में चल रहे जिनिबिम्ब अमृत सिद्धि दर्शन महोत्सव के 4थे दिन गुरुवार भूगर्भ से निकाली यक्ष-रक्षित प्रतिमाओं के दर्शनों और अभिषेक के लिए अमेरिका से आए 40 प्रवासी भारतीयों के एक दल ने अभिषेक के लिए श्रद्धालुओं के साथ कतारों में लगकर घंटों इंतजार के बाद प्रतिमाओं के दर्शन और उनका अभिषेक किया। प्रवासी भारतीयों के दल के लिए यह एक साथ दो-दो खुशी का अवसर था। एक तो भूगर्भ से निकली प्रतिमाओं के दर्शन और अभिषेक का पुण्य एवं दूसरा कुछ दिन अपने परिवार के साथ बिताने की खुशी मुनि पुंगव सुधा सागर जी ने बताया कि देश भर से बहुत अधिक संख्या में आ रहे श्रद्धालुओं के लिए यक्ष-रक्षित प्रतिमाओं के दर्शनों का समय बढ़ाकर 23 से  25 जून तक अभिषेक का समय 10 घंटे से बढ़ाकर 12 घंटे कर दिया गया है।

अब श्रद्धालु प्रात: 06.30 बजे से सायं 06.30 बजे तक अभिषेक एवं दर्शन कर सकेंगे। उसके बाद मंदिर के अंदर पूरी रात दर्शन होंगे। इसके पूर्व प्रात: महाराज जी ने प्रतिमाओं का अभिषेक एवं शांतिधारा कराई।  शांतिधारा विनय बाबू अहमदाबाद, योगेंद्र जैन गाजियाबाद ने की। दोपहर 12.00 बजे राजस्थान के गृहमंत्री गुलाब चंद्र कटारिया ने सपरिवार प्रतिमाओं के दर्शन और अभिषेक कर महाराजश्री से आशीर्वाद प्राप्त किया। इस पूरे अमृत सिद्धि महोत्सव के दौरान देशभर से श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ रही है, जिसे व्यवस्थित करने के लिए पुलिस आयुक्तालय के आला अधिकारी दिन भर चौक-चौबंद दिखे।

इसके साथ ही अतिरिक्त पुलिस आयुक्त नितिन दीप, पुलिस उपायुक्त कुंवर राष्ट्रदीप, अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त हनुमान प्रसाद और एसीपी सांगानेर अशोक चौहान भीड़ को काबू करने के लिए रणनीति बदल-बदल कर श्रद्धालुओं को प्रतिमाओं के कराने हेतु व्यवस्था में लगे रहे। इसके अलावा नगर निगम आयुक्त रवि जैन ने भी सांगानेर में दौरा कर सफाई व्यवस्था सहित अन्य सभी व्यवस्थाएं स्वयं देखी और सुधार के निर्देश दिये।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535