सिंहस्थ महाकुंभ, उज्जैन में पहली बार जैन पंडाल में 108 जैन ध्वजा लहरायेंगी

उज्जैन । महाकालेर की नगरी उज्जैन में सिंहस्थ महाकुंभ का आयोजन होगा। एक महा के विशाल महाकुंभ का आयोजन जब होता है, जब सूर्य मेष राशि पर हो और बृहस्पति सिंह राशि पर हो। यह महाकुंभ मानव मात्र के सुख और ऐर्य में वृद्धि करता है। इस महाआयोजन में पहली बार ऐसा हो रहा है, जब सिंहस्थ महाकुंभ के विशाल आयोजन में महावीर तपोभूमि के विशाल पंडाल में 108 जैन ध्वज लहरायेंगे। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरी महाराज के आमंतण्रपर 3 अप्रैल प्रात: 08.30 बजे तपोभूमि प्रणोता मुनि प्रज्ञा सागर जी महाराज ससंघ के पावन सानिध्य ध्वजारोहण होगा। महाकुंभ के विशाल आयोजन में देश के सभी प्रमुख संतों के शिविर एवं पांडाल के बीच जैन मुनि का भी पांडाल होगा। श्री महावीर तपोभूमि के पांडाल में तपोभूमि से जुड़ी अनेक जानकारियां, झांकियां एवं उज्जैन नगरी में जैनों का  इतिहास आदि के बारे में विस्तृत जानकारी होगी। सिंहस्थ महाकुंभ में पहली बार दिगम्बर जैन मुनि के मुखारविंद से धर्म की प्रभावना प्रविहित होगी।

Comments

comments