24वें तीर्थकर महावीर के जन्म स्थान पहुंच नीतीश ने पूजा-अर्चना कर राज्य के लिए सुख, शांति, समृद्धि की कामना की

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जैन धर्म के 24वें तीर्थकर भगवान महावीर के जन्म स्थल जिला जमुई के सकिंदरा अंतर्गत लछुआड़ पहुंचे। वहां पहुंच कर क्षत्रिय कुंड पहाड़ का मुआयना किया और वहां से जैन धर्मशाला पहुंचकर भगवान महावीर की पूजा-अर्चना कर राज्य के लिए सुख, समृद्धि और शांति की कामना की। नीतीश ने कहा कि लछुआड़ को बिहार के जैन पर्यटक स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा और इसे जैन सर्किट से जोड़ा जाएगा। उन्होंने वहां के जैन मंदिर के विकास हेतु जरूरी कदम उठाये जाने का भी भरोसा दिया। वे लगभग 35 मिनट तक यहां रुके और संबोधन में कहा कि यह स्थान बहुत ही सुंदर और रमणीयक है। यहां पर हजारों की संख्या में प्रत्येक वर्ष तीर्थयात्री आते हैं किंतु दुर्गम रास्ता होने के कारण यहां पहुंचने में बहुत कठिनाई का सामना करना पड़ता है और इस कारण बहुत सारे लोग यहां नहीं पहुंच पाते थे। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि यहां जल्द ही सड़क और बिजली पहुंचाने का कार्य भी शुरू किया जाएगा। इस अवसर पर राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह, डीजीपी पीके ठाकुर, प्रधान सचिव अंजनी कुमार सिंह, प्रशांत भूषण, क्षेत्रीय विधायक बंटी चौधरी, पूर्व भवन निर्माण मंत्री दामोदर रावत आदि मौजूद थे। यहां से मुख्यमंत्री राजगीर लौटे फिर पावापुरी जाकर भगवान महावीर की पूजा अर्जना की। पावापुरी के बाद मुख्यमंत्री का काफिला कुंडलपुर स्थित जैन मंदिर पहुंचा, जहां महावीर भगवान की पूजा की।

Comments

comments