आचार्य श्री विपुल सागर जी महाराज ससंघ का 6 नवम्बर को पटना में पिच्छिका परिवर्तन समारोह।

पटना : राजधानी पटना के कांग्रेस मैदान , कदमकुआं स्थित श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में विगत 4 माह से मंगल चातुर्मास कर रहे जैन संत वृद्ध तपस्वी आचार्य श्री 108 विपुल सागर जी महाराज , आचार्य श्री भद्रबाहु सागर जी महाराज एवं मुनि श्री भरतेश सागर जी महाराज ससंघ का 6 नवम्बर को भव्य पिच्छिका परिवर्तन समारोह का आयोजन धूमधाम से किया जायेगा।

समारोह का शुभारंभ जिनेन्द्र देव का जलाभिषेक , महाशांतिधारा एवं नित्य नियम पूजन-अर्चना के मांगलिक क्रियाओं के साथ किया जायेगा।

इसके पश्चात भव्य पिच्छिका परिवर्तन समारोह में प्रातः 8 बजे मंगलाचरण , दीप प्रज्वलन , चित्र अनावरण , गुरुदेव का पाद प्रक्षालन , शास्त्र भेंट , नई पिच्छी भेंट , मुनि संघ पूजा , महाराज श्री का मंगल प्रवचन व आरती साथ ही पुरानी पिच्छी सौभाग्यशाली भक्तों को आशीर्वाद स्वरूप प्रदान आदि कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा।

मालूम हो कि पिच्छी परिवर्तन समारोह के उपरांत जैन साधु-संतों के चातुर्मास का समापन होता है और इसके बाद वो अनुयायियों के बीच धर्म प्रभावना , जैन धर्म के उद्देश्यों का बखान करते हुये अन्य क्षेत्रों की ओर विहार करते है।

चातुर्मास के पश्चात जैन साधु-साध्वियों के संयम उपकरण मयूर पिच्छी का प्रतिवर्ष परिवर्तन किया जाता है।

बता दें कि संयम व्रत लेने वाले श्रावकों को मुनि संघ की पुरानी पिच्छी मिलने का सौभाग्य प्राप्त होगा। साथ ही जो श्रावक जैन संतो को नई पिच्छी भेंट करते है उन्हें भी संयम धर्म का पालन करना होता है।

— प्रवीण जैन (पटना)

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535