रानीला के श्री आदिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में 201 इंद्रों, 108 कलशों से किया गया भगवान का महामस्ताभिषेक

हरियाणा के रानीला में भगवान आदिनाथ दिगम्बर जैन अतिक्षय क्षेत्र में मानस्तम्भ पंचकल्याणक प्रतिष्ठा एवं रजत जयंती महोत्सव के दूसरे दिन का कार्यक्रम पूरी भव्यता के साथ सम्पन्न हुआ। आचार्य श्रुतसागर जी महाराज के पावन दिशा-निर्देशन में श्रद्धालुओं ने नित्यपूजा, जाप, याग मंडल विधान, वृहद शांति धारा, मंगल आरती, प्रवचन-भजन आदि पूरी श्रद्धा-भाव से पूर्ण किया। प्रात:काल 06.30 बजे जलाभिषेक एवं महा शांतिधारा के साथ कार्यक्रम का शुभारम्भ हुआ। इसके बाद सामूहिक नित्यपूजन, कलश स्थापना, दीपक स्थापना, याग मंडल विधान ब्रह्मचर्य जयकुमार के सानिध्य में पूर्ण किया गया। दोपहर 12.30 बजे मूलनायक आदिनाथ भगवान की 25वीं हीरक जयंती के अवसर पर 201 इंद्रों द्वारा 108 मंगल कलशों से भगवान का अभिषेक किया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि राज्य के कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ उपस्थित थे। उन्होंने भी भगवान आदिनाथ के दर्शन कर 108 दीपों के साथ आरती की और श्रुतसागर जी महाराज से आशीर्वाद लिया। इस अवसर पर पूरे प्रदेश के अलावा दिल्ली, मेरठ, छपरौली, बड़ौत, आदि स्थानों से सैकड़ों की तादात में पधारे धर्माम्बलम्बियों ने धर्मलाभ प्राप्त किया। इस दौरान स्थानीय लोगों ने कृषि मंत्री को पेयजल किल्लत के बारे में अवगत कराया और गौशाला संचालकों ने गौशाला से संबंधित अपनी बातें रखी। प्रबंध कारिणी प्रधान तिलक कुमार जैन, ट्रस्ट चेयरमैन उद्योगपति विजय कुमार जैन, नवहिंद जैन सहित कार्यकारिणी के सदस्यों ने मुख्यअतिथि को मनके की माला, पटका, बैज सहित शाल एवं स्मृति चिह्न भेंट कर उन्हें सम्मानित किया। अंत में श्रद्धालुओं ने आचार्य श्री का आशीर्वाद लिया। मंत्री जी ने उन्हें शीघ्र हल करने का आासन दिया है। कार्यक्रम में डा. संजीव मडिया, संजय छपारिया, सुरेंद्र जांगड़ा, तिलक कुमार जैन, डा. एम.के. जैन, डा. सुभाष जैन. ललित प्रसाद जैन. अरुण जैन, मीडिया प्रभारी राजीव जैन, विजय अग्रवाल, आदिश जैन, विजय जैन, विकास दलाल, अनिल लोहिया, वेद प्रकाश दलाल, सिद्धार्थ जैन, विजय जैन, शैलेंद्र जैन, मनोज जैन, दयानंद जैन, प्रमोद जैन आदि उपस्थित थे।

Comments

comments