लक्ष्मी चाहिए तो स्वच्छता रखो : राष्ट्रसंत विहर्ष सागर

मध्य प्रदेश के भिंड जिला में गुरूवार प्रात: नगर पालिका परिषद में आयोजित धर्मसभा को संबोधित करते हुए राष्ट्रसंत विहर्ष सागर जी ने कहा कि स्वच्छता से ही लक्ष्मी का आगमन होता है। जिस प्रकार हम दीवाली पर घर की साफ-सफाई करते हैं, उसी प्रकार हमें अपना शहर भी स्वच्छ रखना चाहिए। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री द्वारा चलाये जा रहे स्वच्छता अभियान को हम सबको पूरे उत्साह के साथ आगे बढ़ाना चाहिए। उन्होंने कहा कि विदेशों में समृद्धता और अमीरी क्यों है? इसका मुख्य कारण है कि वहां जानवरी भी गंदगी नहीं करते हैं और हमारे देश में जानवर तो क्या मनुष्य ही गंदगी फैला रहा है। उन्हों पानी के बारे में चेताया और कहा कि जल ही जीवन है। ऐसी आशंका जतायी जा रही है कि अभी पेट्रोल के लिए संघर्ष हो रहा है और आने वाले दिनों में पानी के लिए भी संघर्ष की आशंका है। इसलिए पानी को बचाने के लिए पर्यावरण का विशेष ध्यान रखना होगा। सभी लोग संकल्प लें कि अपने-अपने जन्म दिन पर एक पौधा अवश्य लगाएंगे। कार्यक्रम में मुनि श्री विजयेश जी ने कहा कि भक्ति सच्ची है तो वह भगवान तक पहुंचा सकती है। उन्होंने कहा भक्ति भक्त को हनुमान बना देती है। यहां राम भक्त कम किंतु हनुमान भक्त ज्यादा मिलेंगे। स्थानीय विधायक श्री कुशवाह ने कहा कि संत समुद्र के समान हैं। वे जगह-जगह जाकर जैन धर्म की प्रभावना करते हैं। आप सभी की भावना से वे यहां मार्गदर्शन करने आए हैं। इसलिए इनकी वाणी को हमें ग्रहण करना चाहिए। कार्यक्रम में विधायक नरेंद्र सिंह कुशवाह, नगर पालिका अध्यक्ष कलावती मिहोलिया, मनोज जैन सहित समाज के भारी संख्या में लागे मौजूद रहे।

Comments

comments