मांसाहार की वृद्धि से फैली कोरोना की महामारी: आचार्यश्री

इंदौर। आचार्य श्री  विद्यासागर जी महाराज ने बुधवार को प्रवचन में कहा कि मांसाहार की जो वृद्धि हुई है, उसी से कोरोना की महामारी फैली है। उन्होंने नेपाल का उदाहरण देते हुए कहा कि तीन-चार साल पहले वहां एक लाख गोधन एकत्रित कर वध कर दिया था। इसी दौरान नेपाल भूकंप आया तो सभी ने प्रतिज्ञा ली कि वो कभी गोवध का यज्ञ नहीं करेंगे। इसका इलाज खोजने में सभी राष्ट्र लगे हैं, लेकिन अब तक किसी को सफलता नहीं मिली। हम क्या खा रहे हैं, इसके बारेे में हमें सोचना है कि इससे क्या मिलेगा। बुधवार से आचार्यश्री के पाद प्रक्षालन सुबह मांगलिक क्रिया के समय बंद कर दिए हैं। जिस परिवार को आहार का सौभाग्य मिलेगा वही पर पाद प्रक्षालन होगा।

 

— अभिषेक जैन लुहाड़ीया रामगंजमंडी

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535