गणाचार्य 108 विराग सागर ससंघ का रोहतक-सांपला बाईपास की भव्य अगवानी

हिसार में 9 नवम्बर से 15 नवम्बर तक होने वाले श्री 108 मज्जिनेंद्र मल्लिनाथ पंचकल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव को अपने पावन सानिध्य एवं दिशा-निर्देशन में सम्पन्न कराने हेतु दिल्ली से विहार कर गणाचार्य 108 श्री विराग सागर जी महाराज ससंघ का भव्य स्वागत रोहतक-सांपला बाईपास एलपीएस बोसाई सांपला पहुंचने पर नगरवासियों द्वारा भव्य स्वागत किया गया। इस दौरान सांपला से रोहतक के मुख्य मागरे पर भगवान मल्लिनाथ की जय जयकारों के साथ भगवान महावीर के जयकारों से पूरा वातावरण गुंजायमान हो गया। श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए गणाचार्य 108 श्री विराग सागर जी ने कहा कि अज्ञानतावश आज का मनुष्य समुद्ररूपी संसार में सुख और वैभवता प्राप्ति के लिए भटक रहा है और गोते खाते हुए विभिन्न आडंबरों में फंसता जा रहा है, जबकि असली सुख की प्राप्ति प्रमु की शरण में आने से ही होगी। इस अवसर पर बड़ी संख्या में श्रद्धालुगण मौजूद थे।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535