तिजारा डॉक्टर्स सम्मेलन: शाकाहार अपनाने से 160 बीमारियों से बच सकते है लोग

तिजारा। कस्बे के श्री चन्द्रप्रभु दिगंबर जैन मंदिर में शनिवार को जैन चिकित्सकों की शुरू हुई राष्ट्रीय स्तरीय सेमिनार में आचार्य श्री ज्ञान सागर जी महाराज ने चिकित्सकों से आव्हान किया कि वे लोगों को शाकाहार के लिए प्रेरित करें। आचार्य ने कहा कि अगर कोई असहाय गरीब रोगी आए तो उनके प्रति करुणा व दया का भाव रखें। लोगों को नशीले पदार्थों एवं गलत आदतों से होने वाले दुष्प्रभाव के बारे में जानकारी दें और उनसे दूर रहने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि चिकित्सक हर रोगी के तन-मन को स्वस्थ रखने में माध्यम बनें। जन मानस का कल्याण करने के लिए तत्पर रहें।

आचार्य ज्ञान सागर जी महाराज के सानिध्य में आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ मंगलाचरण व दीप प्रज्वलन तथा चित्र अनावरण के साथ हुअा। स्वागत भाषण देते हुए देहरा मंदिर अध्यक्ष पवन कुमार जैन ने सर्व समाज के कल्याण के लिए आगे आने का आव्हान किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सुरेश चंद जैन कुलाधिपति तीर्थंकर महावीर यू्निवर्सिटी मुरादाबाद थे। कार्यक्रम के संयोजक डॉ.डीसी जैन ने मांसाहार से होने वाली ब्रेन की बीमारियों जैसे न्यूरो सिस्टिक, मिर्गी के दौरे एवं मांसाहार से होने वाली 160 से ज्यादा बीमारियों के बारे में बताया।

उन्होंने बताया कि अगर हम शाकाहार को अपनाएं तो इन बीमारियों से बचा जा सकता है। दुर्लभ जी हॉस्पिटल की डॉ. दीपिका सोगानी ने बताया कि आर्थराइटिस में न केवल जोड़ो में दर्द व सूजन होती है बल्कि यह रोगी को मानसिक व सामाजिक तौर पर भी कमजोर कर देता है। इसे हम अपनी जीवन शैली व योग से भी रोगी के तनाव को कम कर सकते है। डॉ. एसके जैन ने थायराइड की बीमारी को बहुत ही सामान्य बीमारी बताया और कहा कि यह बीमारी चार से पांच प्रतिशत लोगों को होती है।

डॉ. वैभव जैन ने बोन हेल्थ से संबंधित बीमारियों को शाकाहार के माध्यम से कैसे ठीक किया जाए, इस बारे में जानकारी दी। डॉ. संजय सोगानी ने बताया कि जिनको सक्रिय टीबी की बीमारी हो उन्हें उपवास से बचना चाहिए। दमा रोगियों को दवाओं के साथ ही उपवास करना चाहिए। डॉ. सिद्वार्थ जैन ने पेट की बीमारियों से बचने के लिए शाकाहार, समय से भोजन करना तथा आत्मानुशासन की महत्ता को समझाया।

क्षेत्र सचिव अंकुश जैन ने बताया कि इस कार्यक्रम में पूरे देश से करीब 200 विशेषज्ञ चिकित्सकों ने भाग लिया। कार्यक्रम में खिल्लीमल जैन, बच्चूसिंह जैन, विजय कुमार, संजय बजाज, प्रेमसागर, बाबूलाल जैन, रवि कुमार बंटी, वीरसिंह, टीटू जैन, नरेंद्र जैन सहित अनेक लोगों ने भाग लिया।

— अभिषेक जैन लुहाड़ीया

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535