कैंसर ट्रीटमेंट के लिए राष्ट्रपति से सम्मानित वैद्य वीरचंद्र जैन ने पुलिस प्रताड़ना से तंग होकर की आत्महत्या

गन्नौर निवासी राष्ट्रपति से सम्मानित वैद्य वीरचंद्र जैन ने पुलिसिया टार्चर के परेशान होकर ट्रेन के सामने कूद कर आत्म हत्या कर अपनी जीवनलीला बृहस्पतिवार को समाप्त कर ली। उनके बेटों ने चार पुलिस कर्मियों पर अपने पिता को बिना वजह प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। बता दें कि मृतक वैद्य श्री वीरचंद्र जैन की बेटी जनवरी, 2017 को घर से मंदिर जाने के लिए निकली थी किंतु उसके बाद से वह लापता है। इस संबंध में वैद्य वीरचंद्र जैन पिछले डेढ़ वर्ष से पुलिस और थाने के चक्कर काट रहे थे।

जानकारी के अनुसार बृहस्पतिवार प्रात: रेलवे ट्रैक पर एक बुजुर्ग के आत्महत्या कर की सूचना पुलिस को मिली। इसके बाद रेलवे पुलिस ने शव कब्जे में ले लिया। मृतक की पहचान गन्नौर नगर के शास्त्री नगर कालोनी निवासी वैद्य वीरचंद्र जैन के रूप में हुई। उनके बेटे के अनुसार बेटी के लापता होने के बाद परिजनों ने उसकी तलाश शुरु कर दी किंतु कोई सुराग न लगा। इसके बाद फरवरी, 2017 को गन्नौर थाने में बेटी गायब होने की शिकायत देकर अज्ञात पर बंधक बनाने का आरोप लगाया था। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया किंतु उसको भी कोई कामयाबी नहीं मिली।

इसके बाद पिता वीरचंद्र जैन पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में याचिका देकर कार्रवाई की मांग की थी। मामले में डीजीपी हरियाणा की तरफ से कुछ समय पहले ही 50 हजार का इनाम घोषित किया गया था किंतु उसके बाद भी पुलिस बेटी का पता नहीं लगा सकी।

उनके बेटों ने बताया की इसके कुछ समय बाद पिताजी ने मई, 2017 को गन्नौर-राजलूगढ़ी मार्ग पर स्थित राजपुरा माइनर में युवती का शत-विक्षत शव को उसकी बहन होने का अंदेशा जताया था। पुलिस ने शव का डीएनए टेस्ट कराया था किंतु उसकी रिपोर्ट उनके पिजाजी के बार-बार मांगने के बाद भी पुलिस ने उन्हें नहीं दी। क्योंकि वे इसी शव को उसकी बेटी बताकर केस की फाइल बंद करना चाहते थे। उसकी बहन की तलाश के मामले में पुलिस कार्रवाई से उनके पिता काफी परेशान हो चुके थे और इसी कारण उन्होंने आत्महत्या की है।

वैद्य वीरचंद्र जैन की ख्याति इतनी थी कि दूर-दूर से मरीज उनके पास आते थे। उन्होंने मध्य प्रदेश के एक मरीज हरदास कुशवाहा का ब्लड कैंसर अपनी दवाई से सही कर दिया था। जिसके चलते 17 सितम्बर, 1994 को तत्कालीन राष्ट्रपति श्री शंकर दयाल शर्मा ने उन्हें सम्मानित किया था। उनके बेटों द्वारा चार पुलिस कर्मियों के खिलाफ पिताजी को तंग करने की शिकायत की है, जिसकी जांच की जा रही है।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535