उपाध्याय श्री गुप्तिसागर जी महाराज – जीवन परिचय

जन्म                       : 4 दिसम्बर, 1957
जन्म  नाम               : नविन कुमार जैन
जन्म स्थान              : गढ़ाकोटा, सागर, मध्य प्रदेश
माता का नाम          : स्व. श्रीमती इन्द्रिरा देवी जैन
पिता का नाम          : स्व. श्री खूबचन्द जैन

ऐलक दीक्षा            : 20 अगस्त, 1980
ऐलक दीक्षा स्थान    : सिद्ध क्षेत्र नैनागिरी
ऐलक दीक्षा गुरू     :आचार्य श्री विद्यासागर जी

मुनि दीक्षा              : 20 अगस्त, 1982
मुनि दीक्षा स्थान      : सिद्ध क्षेत्र नैनागिरी
मुनि दीक्षा गुरू       : आचार्य श्री विद्यासागर जी

उपाध्याय              : 17 फरवरी, 1991
उपाध्याय स्थान     : गोम्मटगिरी, इंदौर
उपाध्याय गुरु       : आचार्य श्री विद्यानन्द जी

[td_video_youtube playlist_yt=”eZXiD75aHTA,bKlzW5sdeh8,-Lw7bB_vEhw” playlist_auto_play=”0″]

Upadhyay shri Gupti sagar ji

Aarti: Upadhyay shri Gupti Sagar ji

ॐ जय गुप्तिसागर  ॐ जय गुप्तिसागर

अन्तरदीप जलाते, गांव नगर जाकर

ॐ जय गुप्तिसागर…

पावन धरा गढ़कोटा, नर नारी हर्षाये।

धन्य पिता श्री खूबचन्द मां इन्द्रा के जाये।।

ॐ जय गुप्तिसागर…

तज के भोग विलास जगत के धर्म ध्यान कीना।

अतिशय क्षेत्र पटेरिया में व्रत ब्रह्मचर्य लीना।।

ॐ जय गुप्तिसागर…

विजय प्राप्त करने अरिदल पर कीनी तैयारी।

सिद्ध क्षेत्र नैनागिरी में ऐलक दीक्षाधारी

ॐ जय गुप्तिसागर…

सत्य अहिंसा धर्म ध्यान के सद् उपदेश दिए।

आचार्य श्री विद्यासागर से मुनिव्रत ग्रहण किए।।

ॐ जय गुप्तिसागर…

ज्ञान सिन्धुवाणी भूषण कवि लेखक करुणाकर।

पूज्य मुनि गुप्तिसागर के शरण अजय रविकर।।

ॐ जय गुप्तिसागर…