Shantinath Bhagwan Aarti | शांतिनाथ भगवान आरती |

शांतिनाथ भगवान की हम आरती उतारेंगे।

आरती उतारेंगे हम आरती उतारेंगे

आरती उतारेंगे हम आरती उतारेंगे शांतिाथ भगवान…

हस्तिनापुर में जनम लिये हे प्रभु देव करे जयकारा हो ।

जन्म महोत्सव करें कल्याणक, नाचे झूमे गाये हो ॥

ऐसे अवतारी की अब हम आरती उतारेंगे।

शांतिनाथ भगवान की हम आरती उतारेंगे।

धन्य है माता ऐरा देवी तुम्हें जो गोद उठाईं है ।

विश्वसेन के कुलदीपक ने ज्ञान की ज्योति जगाई है ।

ऐसे अवतारी की अब हम आरती उतारेंगे ।

शांतिनाथ भगवान की हम आरती उतारेंगे।

पंचम चक्रवर्ती पद पाये, जग सुख बढा अपार था ।

द्वादस कामदेव अति सुन्दर जग में बढा ही नाम था ।

ऐसे अवतारी की अब हम आरती उतारेंगे ।

शांतिनाथ भगवान की हम आरती उतारेंगे।

शांति नाथ प्रभु शांति प्रदाता शुचिता सुख अपार दो ।

जनम-मरण दुःख मेटो प्रभुजी लेना शरण में आप हो ।

ऐसे अवतारी की अब हम आरती उतारेंगे ।

शांतिनाथ भगवान की हम आरती उतारेंगे

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535