बच्चे क्या बड़े भी खाएंगे गर्मियों में पान की कुल्फी:

गर्मी तेजी से पड़ रही है इस लिये ऐसा तो ही नहीं सकता कि हम खुद को कूल रखने के लिये कोई प्रयास न करें।
अगर गर्मी भगाना हो तो घर पर ही बनाइये टेस्टी पान की कुल्फी।
इस को बना कर रख लें और फिर जितना मन करे उतनी बार खाएं और खिलाएं।
यह पान की कुल्फी बच्चों को भी पसंद आएगी,

कुल्फी के नाम से आप सभी परिचित होंगे.
गर्मियों की शाम में उत्तर भारत में सभी मिठाई की दुकाने बाहर एक स्पेशल स्टॉल लगाती हैं कुल्फी का.
पारंपरिक रूप से उत्तर भारत में दूध को खूब पकाकर,
उस में अलग-अलग स्वाद डाल कर फिर उसे स्टील के सांचों में भरकर ढक्कन लगाकर,
सांचों के मुँह को आटे की लोई से बंद कर के फिर इसे मटके मे जमाते हैं.
उत्तर भारत में ज़्यादार जगहों पर कुल्फी को फालूदा के साथ परोसने का रिवाज है.

कुल्फी शायद दुनिया भर में सर्वाधिक खाई जाने वाली मिठाई है.
बड़ी से बड़ी छोटी से छोटी सभी दुकानों में कुल्फी का कोई ना कोई स्वाद तो आप को आसानी से मिल जाएगा.
कुल्फी आमतौर पर दो प्रकार की होती है,
एक जिस में अंडा होता है और एक बिना अंडे की.
आज आप को बिना अंडे की स्वादिष्ट पान की कुल्फी बनाना बता रहे है.

इस दौरान अक्सर लोग खाना खाने के बाद कुल्फी खाना पंसद करते है।
घर के हर सदस्य को कुल्फी हमेशा ही पंसद आती है।
कई वर्षों से कुल्फी को लोग खा रहे हैं और पंसद कर रहे है।
आज आपको कुल्फी नए अंदाज में बनाना सिखा रहें है।
पान वाली कुल्फी हर किसी को पंसद आएगी।
साथ ही इसे पूरा परिवार एक साथ बैठ कर मजे से खा भी सकती है।
यह कुल्फी आप एक घंटे में तैयार कर सकते हैं।
गर्मियों में कुल्फी खाने का अपना मजा होता है,
तो पेश इसका एक देसी स्वाद वाला जायका,
खाएंगे तो सभी कहेंगे, वाह पान!
चलिए बनाते हैं पान वाली कुल्फी।

सामग्री:

पान -10 पत्ते
गुलकंद- दो चम्मच (आप चाहें तो 10-12 ताजी पत्तियां गुलाब के फूल की इस्तेमाल कर सकते हैं)
दूध – एक लीटर
चीनी- 400 ग्राम
कॉर्नफ्लोर- 2 चम्मच
इलायची- 6 छोटी
जायफल- पाउडर छोटा चम्मच
गुलाब जल – एक बड़ा चम्मच
नमक- स्वादानुसार
ग्रेटैड नारियल- थोड़े से
गुलाब जल- थोड़ा सा
ड्राई फूट्स- कटे थोड़े से

विधि:

सब से पहले पान के पत्तों को करीब आधे घंटे के लिए भिगोकर रख दें।
इस के बाद एक पैन में दूध डाल कर इसे आंच पर उबलने के लिए रख दें।
इसे बाद पान के पत्तों को बीच में से मोड़ते हुए इनके डंठल को काट लीजिए।
अब इस मिक्सर में पान के पत्ते,सौंफ, गुलकंद या गुलाब की पत्तियां और क्रीम को पेस्ट बनने तक मिक्स करें।
इस के बाद जैसे ही दूध उबलना शुरू हो जाए इस के अदंर चीनी और इलायची पाउडर मिला लें
फिर इस में कॉर्नफ्लोर को मिला लीजिए।
अगर आप इसे ऐसा ही छोड़ देंगे तो इस में गांठें पड़ जाएंगी।
अब दूध की मात्रा आधी होने तक इसे पकाते रहें।
फिर इस में गुलाब जल, नमक, कटा पिस्ता और जायफल पाउडर मिला दें।
अब आप सभी चीजों को अच्छी तरह मिक्स करने के बाद गैस बंद कर दें
और दूध के मिश्रण को ठंडा होने दें
इस के बाद पान और क्रीम वाला पेस्ट इस मिश्रण में डालें और अच्छी तरह मिलाएं।
इस कुल्फी को को सांचे में डाल कर किसी बर्तन में जमने के लिए फ्रिज में रख दें।
इस के बाद जब यह चार पांच घंटों में अच्छी तरह से सेट हो जाए तो इसे ठंडा कर सर्व करें।

क्या ये रेसिपी आपको पसंद आई?

By: Ashish Sarabhai

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535