Acharya Vidyasagar – चातुर्मास कलश स्थापना, पहले कलश की बोली 2.07 करोड़ और नौवें कलश की 2.52 करोड़, जानिए क्यों?

खजुराहो में चातुर्मास कर रहे संत शिरोमणि आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज ससंघ का चातुर्मास कलश स्थापना में देश भर से श्रद्धालुगण पहुंचे और उनमें से भी सौभाग्यशाली लोगों ने कलश स्थापना की बोली लेकर चातुर्मास कलश स्थापित किये। यह आर्चायश्री का तेज और उनका आशीर्वाद ही है कि राजस्थान के श्री अशोक पाटनी, आर.के.मार्वल वालों ने सबसे ज्यादा रुपये 2 करोड़ 52 लाख की बोली तो ले ली किंतु धर्म के क्षेत्र में उनकी समदृष्टि के चलते उन्होंने सबसे अधिक की बोली लेकर भी सबसे अंतिम कलश स्थापित किया और पहले कलश से लेकर आठवें कलश तक को अन्य लोगों को लेने के लिए अवसर दिया। यह उनके बढ़पन का ही परिचायक है।

इसके बाद दोपहर 03.00 बजे आचार्यश्री के मुखारविंद से कलश विधिविधान पूर्वक मंत्रों के उच्चारण से स्थापित किये गये।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535