मेरे जीवन का सारा पुण्य जांबाज अभिनंदन को समर्पित : सुधा सागर महाराज

राजस्थान के बूंदी नगर के धोवड़ा गांव में मुनि पुंगव श्री सुधासागर जी महाराज ससंघ ने श्री दिगम्बर जैन मंदिर में भारतीय वायुसैनिक विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की सकुशल वतन वापिसी के लिए श्री शांतिनाथ भगवान की शांतिधारा की साथ ही देश की सीमाओं पर तैनात सैनिकों के नाम का अभिषेक पूजन किया। इस के साथ ही सभी समाज से अभिनंदन के नाम की णमोकार मंत्र की माला जपने की अपील की थी।

ये उनके द्वारा की गयी भगवान शांतिनाथ भगवान की शांतिधारा एवं  णमोकार मंत्र का ही प्रभाव है कि हमारे जांबाज अभिनंदन की आज सकुशल वतन वापिसी हो रही है। मुनिश्री सुधासागर जी ने एक धर्मसभा में कहा कि मेरा सारा पुण्य उस जांबाज कमांडर के नाम समर्पित है, जिसने अपनी जान की परवाह किये बिना दूसरे देश के कब्जे में है। मुनिश्री ने कहा कि भावनाओं में बहुत बड़ी ताकत होती है।

उन्होंने कहा कि देश का सैनिक भारतमाता की रक्षा के लिए लड़ रहा है । एक सैनिक अपने के लिए कुछ नहीं करता बल्कि वह देश के लिए सब कुछ न्यौछावर होने को तत्पर रहता है। सैनिक की वजह से ही हमारा देश और हमारी संस्कृति सुरक्षित है। उन्होंने आगे कहा कि अपना देश बहुत दयालु है, प्लीज, सॉरी बोलने पर माफ कर देता है किंतु पीठ में छुरा घोंपने वालों को कभी माफ नहीं करता।

उन्होंने आह्वान करते हुए कहा कि देश की रक्षा के लिए पीछे मत हटना। देश के लिए कुर्बानी देनी पड़े, तलवार उठानी पड़े तो उठा लेना, उससे किसी तरह की हिंसा नहीं लगेगी। राजनीतिज्ञों को संदेश देते हुए कहा कि वोटों के लिए आपस में लड़ लेना किंतु देश के लिए एक हो जाना। यही हमारी भारतीय संस्कृति है।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535