जैन समाज ने किया जबर्दस्त प्रदर्शन, आरोपी पुलिस की गिरफ्त से अभी भी दूर

दमोह, जैन मुनियों के बारे में अभद्र टिप्पणी करने और उसके बाद ढिगसर गांव में जैन मंदिर में चोरी की घटना के बाद प्रतिमाओं को खंडित किए जाने की घटना से जैन समाज आहत है। जैन समाज का कहना है कि चोरी करने वालों के खिलाफ वहां की पुलिस एवं प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। इसीलिए चोरी की घटना का मुख्य आरोपी अब तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है और फरार है ।

इसी तरह असंघ घोष के नाम से जैन मुनियों पर अभद्र टिप्पणी करने के आरोपी जिला पंचायत सीईओ पर भी अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है, जिसे लेकर समाज के लोगों ने आरोपियों के नाम की तख्तियां लेकर विरोध प्रदर्शन किया और भोपाल से लेकर दिल्ली तक विरोध करने से लेकर यहां तक कहा कि आरोपियों का बचाव कर रहे किसी भी मंत्री-संत्री तक को नहीं छोड़ेंगे। शुक्रवार जैन समाज ने मौन रहकर अपना आक्रोश प्रदर्शित किया।

दोपहर में महिलाओं सहित सैकड़ों की संख्या में जैन युवा एवं बुजुर्ग जैन धर्मशाला से पैदल मार्च करते हुए घंटाघर होकर कीर्ति स्तम्भ चौक पहुंचे, जहां विशाल सभा का आयोजन किया गया और पुलिस-प्रशासन को खरी-खोटी सुनाई। जैन समाज के अनुसार इस गांव में कभी चोरी की घटना नहीं हुई। यह पहली बार है, जब मंदिर से चोरी की घटना को अंजाम दिया गया और हजारों वर्ष पुरानी जैन प्रतिमाएं चोरी हो गई।

समाज में आक्रोश की एक बड़ी वजह यह भी है कि समाज ने असली आरोपी के बारे में पुलिस को जानकारी दी किंतु पुलिस ने कुछ नहीं किया और ज्यादा दवाब पड़ने पर पुलिस ने चोरी के असली आरोपी को न पकड़, एक निदरेष पर झूठा मामला दर्ज कर दिया। इससे साफ आशंका जाहिर की जा रही है कि पुलिस की मूर्ति चोरों के साथ सांठ-गांठ है। समाज ने कहा कि आरोपियों को बचाने वाले मंत्री हों या कोई बड़े पद पर हों, उनको भी बख्शा नहीं जाएगा। इसके लिए वे भोपाल से लेकर दिल्ली तक विरोध प्रदर्शन जारी रखेंगे।

जैन समाज के वरिष्ठ विमल लहरी ने कहा कि कुर्सी पर बैठे अधिकारी सुन लें कि जब हमारा मौन विरोध इतना मुखर है तो हम व्यर्थ क्यों बोलें किंतु यदि हमें मजबूर किया गया तो पूरे देश में आंदोलन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रतिमाओं को जिस तरह खंडित किया गया है, ऐसा किसी इंसान के साथ भी नहीं किया जाता इसके बाद भी आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं। इसी तरह जैन संतों पर अभद्र टिप्पणी करने वाले जिला पंचायत सीईओ पर भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

समाज ने कहा कि कानून सबके के लिए समान है फिर चाहे कोई भी हो। उन्होंने आक्रोशित होकर यह भी कहा कि यदि पुलिस आरोपियों को नहीं पकड़ेगी तो हमारे युवा उन्हें जीप में बांधकर घसीटते हुए लाएंगे। जैन समाज के ज्ञापन को लेने के लिए कलेक्टर डा. श्रीनिवास शर्मा एएसपी अरविंद दुबे एवं देहात थाना टीआई के साथ पहुंचे। कलेक्टर के पहुंचते ही जैन समाज आक्राशित हो गया और जिला पुलिस एवं प्रशासन के खिलाफ जबर्दस्त नारेबाजी होने लगी। इसके बाद कलेक्टर ने मामले की जांच कराने एवं दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535