आचार्यश्री के दर्शन के बाद परिवार की सबसे छोटी बेटी ने लिया ब्रह्मचर्य व्रत

आचार्यश्री विद्या सागर

आचार्यश्री विद्यासागर जी के दर्शन करने जबेरा से आया एक परिवार की बेटी ने आजीवन ब्रह्मचर्य व्रत धारण करने का फैसला लिया है। जानकारी के अनुसार जबेरा नगर (दमोह) के गल्ला व्यापरी कमल चौधरी का परिवार आचार्यश्री के दर्शन हेतु आया था। आचार्यश्री के दर्शन पाने के बाद उनकी सुपुत्री निधि ने आजीवन संयम ब्रह्मचर्य व्रत को धारण कर लिया। इनके दो बड़े भाई नीलेश और नागेश सहित दो बहनें हैं, जिनमें निधि सबसे छोटी हैं।

निधि वर्तमान में जैन मंदिर में संचालिका श्री अनाकांत विद्या केंद्र की शिक्षिका भी हैं। परिवारीजन बताते हैं कि निधि की शुरु से ही धार्मिक परंपराओं में रुचि रही है। जबेरा में आर्यिका संघ के चातुर्मास के बाद से निधि पूरी तरह धार्मिक गतिविधियों में लग गई थी। निधि पोस्ट ग्रेजुएट हैं और साथही कम्प्यूटर शिक्षा में पीजीडीसीए भी किया हुआ है।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535