सचिन तेंदुलकर की फरारी में सवार होकर दीक्षा ग्रहण करने निकली 17 साल की स्तुति शाह

सूरत नगर के एक सम्पन्न घराने की लाडली 17 वर्षीय स्तुति शाह एक प्रेरक वक्ता के रूप में अपना कैरियर बनाना चाहती थी किंतु अब वे सांसारिक सुख-सम्पन्नता और विलासिता को ठोकर मार दीक्षा लेकर त्याग, तपस्या के मार्ग पर निकल पड़ी हैं। दीक्षा ग्रहण करने वाली स्तुति शाह ने बताया कि मेरी इच्छा पूर्व दिग्गज क्रिेकेट खिलाड़ी मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर की लाल फरारी पर सवार होकर दीक्षा लेने जाने की थी और इसमें मेरे पिता जी ने पूरा सहयोग किया।

स्तुति के पिता सुरेश शाह एक प्रिटिंग प्रेस के मालिक हैं उन्होंने बताया कि मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर की की कार वर्ष 2011 में सूरत के बिल्डर जयेश देसाई को बेच दी थी। कथिततौर पर स्तुति के पिता ने सुरेश देसाई से स्तुति की इच्छा के मुताबिक अपनी कार एक दिन के लिए देने का अनुरोध किया, जिसमें सवार होकर स्तुति दीक्षा ग्रहण करने जा सके। उनकी बेटी की इस इच्छा के आगे देसाई ने अपनी कार देना सहर्ष स्वीकार कर लिया। स्तुति शाह ने बताया कि वह प्रखर वक्ता बनना चाह रही थीं किंतु वर्ष 2017 में जैन परंपरा के आध्यात्मिक गुरु महाराज साहेब के सम्पर्क में आने के बाद उन्होंने सन्यास लेने का फैसला किया।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535