गणिनी आर्यिका विशुद्धमति माताजी ससंघ का समाजजन ने नम आंखो से कराया मंगल विहार

आलनपुर। अतिशय क्षेत्र चमत्कार जी की पावन धरा पर ऐतिहासिक एवम अविस्मरणीय गुरु माँ विशुद्धमति माताजी का 50 वा वर्षायोग महती धर्मप्रभावना के साथ संपन्न उपरांत ससंघ का चोथ का बरवाड़ा की और विहार हुआ मंगल विहार के समय समाजजन भावुक और भाव विहल थे।

वर्षायोग समिति प्रवक्ता प्रवीण जैन ने बताया की विहार करने से पूर्व आर्यिका संघ ने मंदिर जी के दर्शन किये व सभी समाज जन को मंगल आशीर्वाद प्रदान किया।

पुण्य के उदय से संतो के दर्शन होते है विशुद्धमती माताजी

मंगल विहार के समय अपना उद्बोधन देते हुये भारत रत्न गणिनी आर्यिका श्री विशुद्धमति माताजी ने कहा की पुण्य के उदय से संतो के दर्शन होते है वे जीव पुण्यशाली होते है जो संतो के नगर आगमन के बाद उनकी वाणी का लाभ ले पाते है। माताजी ने संयमपूर्वक जीवन जीते हुये धर्म की राह पर चलने का मंगल आशीर्वाद दिया।

वर्षायोग समिति व जिला प्रशासन की भरी भूरी प्रशंसा की वह साधूवाद दिया

इस अवसर गणिनी आर्यिका विशुद्धमति माताजी ने स्वर्णिम वर्षायोग को निर्विघ्न संपन्न करने मे अतिप्रशसनीय योगदान देने के लिये वर्षायोग समिति समाजजनो सहित जिला प्रशासन की भरी भूरी प्रशसा की व साधुवाद दिया। साथ ही धार्मिक आयोजनो मे प्रिंट इलेक्ट्रोनिक व सोशल मीडिया के माध्यम से जन जन तक पहुचाने मे उनके द्वारा दिये गये सहयोग के लिये अनंत शुभाशीष प्रदान किया।

जैसे ही गुरु माँ संघ का विहार हुआ वहा मोजूद सभी  भक्त गण की आंखे भर आयी काफी संख्या मे भक्तगण पद विहार मे सम्मलित रहे।

 

— अभिषेक जैन लुहाड़ीया रामगंजमंडी

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535