जिनवाणी को बनाना होगा जीवन का आधार : विहर्ष सागर

बड़ौत(बागपत) : शहर के दिगंबर जैन छोटा मंदिर में धर्म सागर साधुवृत्ति आश्रम प्रबंध कमेटी के तत्वावधान में धार्मिक कार्यक्रम हुए। इस अवसर पर श्री 108 विहर्ष सागर जी महाराज के सानिध्य में वीर शासन जयंती मनाई गई, जिसमें आस्था का सैलाब उमड़ पड़ा। महाराज श्री ने धर्मसभा में कहा कि जिनवाणी को जीवन आधार बनाकर ही भव से पार निकला जा सकता है।

धर्मसभा का शुभारंभ सुमत प्रसाद ने मंगलाचरण कर किया। इस अवसर पर सागर जी महाराज ने कहा कि हम सब सौभाग्यशाली हैं कि वीर शासन जयंती मनाने का अवसर प्रदान हुआ है। भगवान महावीर स्वामी ने कहा कि जिनवाणी को अपने जीवन में उतारो और स्वामी जी के बताए मार्ग पर चलो, इससे न सिर्फ जीवन आनंदमय हो जाएगा बल्कि, जीने की राह भी आसान हो जाएगी। महावीर जी ने नारा दिया कि जियो और जीनो दो, यानी कि खुद ही मंगल के साथ जीवन जियो और दूसरों को भी जीने दो। ईष्र्या और द्वेष भाव मानव को अंधकार की ओर ले जाता है, इसलिए महावीर जी ने मानव को सुख-शांति के साथ जीने की राह दिखाई है। मानव को लोभ-लालच छोड़कर ईश्वर के चरणों में ध्यान लगाना चाहिए।

धर्मसभा का संचालन डा. आरके जैन ने किया। इस मौके पर अजय जैन, पंकज जैन, सुधीर जैन, अशोक जैन, सुशील, विपिन, अरुण, विनोद, सिम्मी जैन, पुष्पा, कृष्णा जैन, संदीप जैन आदि उपस्थित रहे।

Source – www.jagran.com

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535