भारी बारिश के बावजूद शाश्वत तीर्थ श्री सम्मेद शिखर जी में श्रद्धालुओं की भीड़

जैन धर्म के 23वें तीर्थकर भगवान पार्श्वनाथ की मोक्ष नगरी श्री सम्मेद शिखर में भगवान पार्श्वनाथ के मोक्ष दिवस श्रावण शुक्ला सप्तमी दिनांक 17 अगस्त, 2018 को लाडू चढ़ाने और उनके दर्शन की कामना लिए पूरे देश से बड़ी संख्या में श्रद्धालुगण वहां पहुंच रहे हैं। झारखंड राज्य में श्री सम्मेद शिखर (पारसनाथ) ऐसी पावन भूमि है, जहां 20 तीर्थकरों ने कठिन साधना कर मोक्ष की प्राप्ति की थी। इसलिए यहां के पर्वत का कण-कण पावन और पवित्र माना जाता है।

कल दिनांक 17 अगस्त को भगवान पार्श्वनाथ के मोक्ष कल्याण दिवस पर दर्शनों एवं लाडू चढ़ाने की लालसा लिए श्रद्धालुगण का भारी बारिश के बावजूद भी पहुंचना लगातार जारी है। बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के पहुंचने से वहां की सभी धर्मशालाएं, गैस्ट हाउस फुल हो चुके है।

देश के कोने-कोने से एक साथ इतनी बड़ी संख्या में लोगो के पहुंचने के कारण मधुबन के जैन मंदिरों में रौनक-ही-रौनक छायी हुई है और वहां के बाजारों में भी अच्छी-खासी भीड़ है।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535