तपोदयतीर्थ में गुलाबी पत्थर से निर्मित 27 फीट लंबी पार्श्वनाथ की प्रतिमा होगी विराजित, 25 करोड़ खर्च का अनुमान

राजस्थान के बिजौलिया नगर में जैन धर्म के 23वें तीर्थकर भगवान पार्श्वनाथ तपोदयतीर्थ पर 161 फुट ऊंचे शिखर वाले भव्य जिनालय का काम जोरों से चल रहा है। इसके लिए मूल नायक भगवान पार्श्वनाथ की 27 फुट ऊंची मनोहारी प्रतिमा करौली के गुलाबी पत्थर से निर्मित हो रही है, जिसका काम अंतिम चरण की ओर है। लगभग 6 माह से मंदिर निर्माण का कार्य प्रगति पर है। इस निर्माण में लगभग 25 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। जैन समाज के विकास पटवारी के अनुसार मंदिर शिखर की ऊंचाई 161 फुट होगी। मूलनायक भगवान पार्श्वनाथ की प्रतिमा 27 फुट लंबी और 12 फुट चौडी है। आचार्य विद्यासागर महाराज की प्रेरणा से बन रहे तपोदयतीर्थ मंदिर को पांच श्रृंगार चौकियों से युक्त बनाया जा रहा है। कोटा के समाजसेवी कैलाशचंद्र सरार्फ के सहयोग से बन रहे मंदिर में काम लिए जाने वाले पत्थर जयपुर, करौली से ही डिजायन करवाकर मंगवाये जा रहे हैं। आशा की जा रही है कि वर्ष 2018 की शुरूआत में मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा हो सकती है।

Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535