केलीफोर्निया में आचार्य लोकेश को मिला शहर का सर्वोच्च सम्मान


केलिफोर्निया के मिल्पितास के सिटी हाल में आयोजित स्वागत समारोह में सिटी काउंसिल एवं मिल्पिटास के मेयर जो एस्टीवस ने आचार्य लोकेश मुनि को शहर के सर्वोच्च सम्मान ‘की टू सिटी’ अवार्ड से सम्मानित किया। यह सम्मान आचार्य लोकेश मुनि की अमेरिका में शांति सद्भावना यात्रा के दौरान आयोजित कार्यक्रम में दिया गया। समारोह में मिल्पिटास के मेयर ने कहा कि लोकेश अहिंसा एवं शांति के दूत हैं, वो एक आध्यात्मिक गुरू हैं, जो मानवता की सेवा के लिए विश्व को समर्पित हैं। उन्होंने राजनीतिक नेताओं, धार्मिक गुरुओं एवं समगिक संगठनों से एकजुट होने का आड्वान करते हुए कहा कि सबको साथ मिलकर हिंसा एवं आतंकवाद के खिलाफ काम करना होगा और मानसिक एकता को मजबूत करना होगा। उन्होंने कहा कि आज विश्व कठिन दौर से गुजर रहा है, हमें अनेकता में एकता के उददेश्य नहीं भूलना चाहिए। उन्होंने शांति सद्भावना यात्रा की प्रशंसा की और कहा कि यह यात्रा न केवल भारत बल्कि समस्त विश्व के लिए प्रेरणा का स्रेत है।

अहिंसा विश्व भारती के संस्थापन आचार्य लोकेश मुनि से कहा कि धर्म गुरुओं को एकसाथ समाज में शांति एवं आपसी भाईचारा स्थापित करने का रास्ता दिखाना चाहिए। हमें जोर देना चाहिए कि राजनेताओं, अफसरों एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं के बीच आपसी तालमेल और ज्यादा बढ़े। आचार्य लोकेश मुनि ने कहा कि भारत ही नहीं अपित पूरा विश्व आतंकवाद से जूझ रहा है । हिंसा किसी भी समस्या का समाधान कतई नहीं हो सकता। हमें आतंकवाद के कारणों को खोज उसे खत्म करने के लिए व्यापक नीति बनानी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि शिक्षा प्रशली में पीस एजूकेशन एवं अहिंसा प्रशिक्षर को शामिल कर आतंकवाद की सोच को कम किया जा सकता है। अंत में आचार्य ने मिल्पिटास के मेयर एवं सिटी काउंसिल के सदस्यों को धन्यवाद दिया और उन्हें भारत आचार्य लोकेश आश्रम आने का न्यौता भी दिया।


Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535