विश्वशांति महायज्ञ के साथ संपन्न हुआ भोलानाथ नगर जैन मंदिर का पंचकल्याणक महोत्सव


पूर्वी दिल्ली : भोलानाथ नगर शाहदरा के नवनिर्मित जैन मंदिर में चल रहे पंचकल्याणक महोत्सव के अंतिम दिन आयोजित विशाल धर्म सभा में विश्व के नाम संदेश प्रेषित करते हुए प्रख्यात जैन मुनि आचार्य श्रुत सागर जी महाराज ने कहा कि अशांति की ओर बढ़ते विश्व के वर्तमान कालखंड में भगवान महावीर के संदेश जियो और जीने दो कि नितांत आवश्यकता है क्योंकि विश्व शान्ति की प्रभावना लाने का यही मूल मंत्र है।

इस अवसर पर श्रुत सागर जी महाराज ने पंच कल्याणक की विवेचना करते हुए यह भी बताया कि पंचकल्याणक पाषाण को परमात्मा बनाने की प्रक्रिया है इस दौरान भगवान की गर्भ, जन्म, तप, केवल ज्ञान व मोक्ष की क्रियाएं की जाती है ।

पंचकल्याणक महोत्सव कमेटी से जुड़े विपिन जैन ने इस मौके पर बताया कि आज मूलनायक भगवान पार्श्वनाथ की प्रतिमा व 121 नई    प्रतिष्ठित प्रतिमाओं के साथ पंचकल्याणक के अंतिम दिन सीबीडी ग्राउंड विश्वास नगर  से भोलानाथ नगर शाहदरा स्थित जैन मंदिर तक भव्य पालकी यात्रा भी निकाली गई । यात्रा के समापन के बाद 121प्रतिष्ठित प्रतिमाओं को नवनिर्मित वेदियों में स्थापित भी किया गया ।

उल्लेखनीय है कि भोलानाथ नगर शाहदरा के नवनिर्मित जैन मंदिर में चल रहा पंचकल्याणक महोत्सव में हुए विश्वशांति महायज्ञ के साथ आचार्य श्रुत सागर मुनिराज व मुनि अनुमान सागर जी के सान्निध्य व प्रतिष्ठाचार्य नरेश कांसल की देखरेख में संपन्न हुआ।

पंचकल्याणक महोत्सव में जैन समाज के प्रधान निर्मल जैन, मंत्री लवकेश जैन, कोषाध्यक्ष विनोद जैन, भाजपा नेता विपिन जैन के साथ उपप्रधान संजय जैन, उपमंत्री सचिन जैन, प्रबंधक नवीन जैन व सदस्य आशीष जैन, गौरव जैन, दमन जैन, मंच संचालक विजेन्द्र जैन, स्याद्वाद युवा क्लब के संदीप जैन, जैन युवा मंच के तरूण जैन, आरती मंडल के सन्नी जैन, आकाश जैन, मुकेश जैन वर्धमान,पवन जैन पिंटा,प्रदुमन जैन, प्रियांक जैन, अंकित जैन बुढाना आदि का सहयोग सराहनीय रहा ।

पंचकल्याणक में भगवान के पिता बने प्रेमचंद जैन, सौधर्म इन्द्र  ऋषिपाल जैैन,कुबेर अजय जैन, महायज्ञनायक अनिल जैन व ईशान इन्द्र ललित जैन आदि इन्द्र इन्द्राणीयों ने भगवान की सभी क्रियाएं विधि विधान से सम्पन्न कराई।


Comments

comments

अपने क्षेत्र में हो रही जैन धर्म की विभिन्न गतिविधियों सहित जैन धर्म के किसी भी कार्यक्रम, महोत्सव आदि का विस्तृत समाचार/सूचना हमें भेज सकते हैं ताकि आप द्वारा भेजी सूचना दुनिया भर में फैले जैन समुदाय के लोगों तक पहुंच सके। इसके अलावा जैन धर्म से संबंधित कोई लेख/कहानी/ कोई अदभुत जानकारी या जैन मंदिरों का विवरण एवं फोटो, किसी भी धार्मिक कार्यक्रम की video ( पूजा,सामूहिक आरती,पंचकल्याणक,मंदिर प्रतिष्ठा, गुरु वंदना,गुरु भक्ति,गुरु प्रवचन ) बना कर भी हमें भेज सकते हैं। आप द्वारा भेजी कोई भी अह्म जानकारी को हम आपके नाम सहित www.jain24.com पर प्रकाशित करेंगे।
Email – jain24online@gmail.com,
Whatsapp – 07042084535